September 7, 2021

Daal mein kala hona

दोस्तो जब कोई व्यक्ति आपस मे मिलते भी नही है और अचानक वे मिलने लग जाते है या फिर किसी कारण से किसी के घर मे या फिर किसी के पास ऐसे व्यक्ति आते है जो बेवजह किसी के पास नही ‌‌‌आते है । तो लगता है की उसके घर मे या उसके पास कुछ ऐसा है जो ठिक नही है या फिर वह ठिक कार्य नही करता है इसी को दाल मे काला होना कहते है ।

क्योकी जिस तरह से दाल मे काला दिख जाता है तो दाल कुछ अलग ही दिखती है उसी तरह से अगर किसी के कार्य करने के तरीके बदल जाते है तो दाल मे काला होना माना जाता है ।जिस तरह से सेठ को पुलिस ने अकेले मे बुलाया तो लगता है की दाल मे काला है ।
रोजाना पुलिस माधव को पुलिस थाने बुलाती है लगता है की दाल मे काला है ।
तुम्हारे इस तरह से आने और मेरे साथ इस तरह से बात करने से लगता है की दाल मे काला है ।
आप मुझे मत फसाए साहब मुझे पता है की दाल मे कुछ काला है ।
मणजीत शुबह घर मे दिखता है और रात को बाहर जाता दिखता है इससे लगता है की दाल मे काला है ।
अगर आप मेरे घर मे इस तरह से आते रहोगे तो लोगो को सक तो होगा ही की दाल मे काला है ।
HINDI MUHAVARE

rohit kumar
दाल में काला होना मुहावरे का अर्थ और वाक्य मे प्रयोग
दाल में काला होना मुहावरे का अर्थ और वाक्य मे प्रयोग

दाल में काला होना मुहावरे का अर्थ daal me kala hona muhavare ka arth – किसी बात पर संदेह होना ।

दोस्तो जब कोई व्यक्ति आपस मे मिलते भी नही है और अचानक वे मिलने लग जाते है या फिर किसी कारण से किसी के घर मे या फिर किसी के पास ऐसे व्यक्ति आते है जो बेवजह किसी के पास नही ‌‌‌आते है । तो लगता है की उसके घर मे या उसके पास कुछ ऐसा है जो ठिक नही है या फिर वह ठिक कार्य नही करता है इसी को दाल मे काला होना कहते है ।

क्योकी जिस तरह से दाल मे काला दिख जाता है तो दाल कुछ अलग ही दिखती है उसी तरह से अगर किसी के कार्य करने के तरीके बदल जाते है तो दाल मे काला होना माना जाता है ।

दाल में काला होना मुहावरे का अर्थ और वाक्य मे प्रयोग
दाल में काला होना मुहावरे का वाक्य मे प्रयोग Use in sentence
‌‌‌जिस तरह से सेठ को पुलिस ने अकेले मे बुलाया तो लगता है की दाल मे काला है ।
रोजाना पुलिस माधव को पुलिस थाने बुलाती है लगता है की दाल मे काला है ।
तुम्हारे इस तरह से आने और मेरे साथ इस तरह से बात करने से लगता है की दाल मे काला है ।
‌‌‌आप मुझे मत फसाए साहब मुझे पता है की दाल मे कुछ काला है ।
मणजीत शुबह घर मे दिखता है और रात को बाहर जाता दिखता है ‌‌‌इससे लगता है की दाल मे काला है ।
अगर आप मेरे घर मे इस तरह से आते रहोगे तो लोगो को सक तो होगा ही की दाल मे काला है ।
दाल में काला होना मुहावरे ‌‌‌पर कहानी Idiom story

‌‌‌कुछ समय पहले की बात है सुरेश नाम का एक लडका अपने गाव मे अपने माता पिता के साथ रहता था । उसके पिता जी खेतो मे काम करते थे और उसकी मां घर का ही काम करती थी । जब वह बडा हुआ तो कुछ दिनो के बाद उसके माता पिता का एक्सीडेंट हो गया था । जिसमे उसके माता पिता की मृत्यु हो गई थी ।

अपने माता पिता के ‌‌‌मर जाने के कारण सुरेश कुछ भी नही करता था और इसी तरह से पडा रहता था । तब वह शहर काम करने के लिए गया था । शहर मे काम तो उसे मिला नही था और एक रात वह अपने घर की तरफ जा रहा था की उसने देखा की कुछ लोग चोरी कर कर भाग रहे है और दुसरे दिन उसे पता चला की उन लोगो ने बहुत रुपय चुरा लिए है ।

उन्हे ‌‌‌देखकर वह भी चोरी करने लगा था और एक बार वह चोरी करते हुए पकडा गया । चोरी करने से पकडा जाने के कारण पुलिस ने उसे जेल मे बंद कर दिया था । जेल मे उसे पता चला की जो भी पहली बार चोरी करता है वह इसी तरह से एक बार तो जेल मे आता है । तब ‌‌‌उसे अफसोस नही हुआ की वह पकडा गया ।

और जैसे ही वह जेल से वापस छुटा ‌‌‌तो वह फिर से चोरी करने लग गया था । इसी तरह से चोरी करते करते उसका नाम भी चोरो की लिस्ट मे आने लगा था । क्योकी चोरो को पता होता था की कोन शहर मे ज्यादा चोरी करता है । इसी कारण से एक दिन उसे कुछ लोगो ने पकड कर अपने ‌‌‌पास ले गए और उसे वहा पर बताया की तुम चोरी करते हो और वह भी बहुत सावधानी के साथा ।

Leave a Reply